यह साइट खासकर के प्रैक्टिस के लिए है, इसलिए अधिकतर प्रश्नो के उत्तर नहीं दिए गए हैं| आप उत्तर देके मदद कर सकते हैं अपनी और दूसरों की भी

जीने की त्मंन ना हो तो भी जीना क हैं हर वयक्ति चाहता हैं खुश रहे पर दुख कीयू?

0 votes
17 views
asked in जिंदगी&सलाह by

Your answer

Your name to display (optional):
Privacy: Your email address will only be used for sending these notifications.
Made with in Patna
...